Lady constable news agra

chauthastambhup.com । आगरा ।

आज के डिजिटल युग में हर कोई वायरल होना चाहता है। चाहे आम हो या खास। सभी पर सोशल मीडिया का खुमार सिर चढ़कर बोल रहा है। कहीं कोई वीडियो बनाकर अपनी कला का प्रदर्शन कर रहा है तो कोई लिपसिंग से ही काम चला रहा है। अगर आप सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर हैं और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं तो कभी न कभी नीचे लिखे लाइनों को जरूर सुना होगा।

यह भी पढ़ें:-

● गोलगप्पे खाने के शौकीन हैं तो हो जाएं सावधान, दुकानदार द्वारा पानी में पेशाब मिलाने का वीडियो हुआ वायरल

● सोशल मीडिया का प्यार पहुंचा लड़की के द्वार, उर्दू के उच्चारण में फंसे दूल्हे राजा पर शातिर मौलवी को हुआ शक

“हरियाणा-पंजाब तो बेकार ही बदनाम है। आओ कभी उत्तर प्रदेश में, रंगबाजी क्या होती है, हम तुम्हें बताते हैं। न गुंडई पे गाना बनाते हैं और न गाड़ी पर जाट-गुज्जर लिखाते हैं, हमारे यहां पांच-पांच साल के लाउंडे कट्टा चलाते हैं।”

उपरोक्त लाइन पर लिपसिंग करते हुए उत्तर प्रदेश के युवाओं का हजारों वीडियो सोशल मीडिया पर भरा-पटा है। लेकिन कभी-कभी यही वायरल वीडियो लोगों के लिए महंगा साबित हो जाता है। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के आगरा से सामने आया है। जहां उत्तर प्रदेश पुलिस में कार्यरत एक महिला सिपाही को रिवाल्वर के साथ वीडियो बनाकर उसे वायरल करना भारी पड़ गया है।

Lady constable news agra

दरअसल आगरा के थाना एमएम गेट में तैनात महिला सिपाही प्रियंका मिश्रा ने “पांच-पांच साल के लाउंडे कट्टा चलाते हैं” पर लिपसिंग करते हुए अपना एक वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपलोड कर दिया था। जो वायरल हो गया। वीडियो में महिला सिपाही कमर पर रिवाल्वर लगाए और बीच-बीच में उसे लहराती हुई दिखाई दे रही हैं।

जब यह वीडियो आगरा के एसएसपी मुनिराज के पास पहुंचा तो उन्होंने सिपाही प्रियंका मिश्रा को लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही महिला सिपाही के खिलाफ जांच शुरू करते हुए पुलिस द्वारा यह पड़ताल की जा रहा है कि, उन्होंने जो रिवाल्वर ले रखी है वह किसकी है…?

Lady constable news agra

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here