उत्तर प्रदेश डेस्क।।

हाथरस: हाथरस गैंगरेप मामले में जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है। साथ ही एजेंसियों ने पूछताछ पहले से तेज कर दी है। मामले की छानबीन में जुटी एसआईटी की टीम पहले ही पीड़िता के घर वालों से जांच-पड़ताल कर चुकी है। लेकिन शुक्रवार को मनीषा के गांव वालों से भी पूछताछ की गई।

#the_victim's_family_refused_to_get_corona_test_CHAUTHA_STAMBH_News_UttarPradesh1
the victim’s family refused to get corona test

आज लखनऊ हाई कोर्ट के कुछ अधिकारी भी पीड़िता के परिवार वालों से मिले। पदाधिकारियों ने बताया कि, घरवालों को 12 अक्टूबर को लखनऊ बुलाया गया है। जहां अदालत में उनका बयान दर्ज किया जाएगा।इस संबंध में अधिकारियों ने परिवार को एक नोटिस भी दिया है।

स्वास्थ्य विभाग की एक टीम भी आज ही परिवार का कोरोना सैंपल लेने गांव पहुंची। लेकिन पीड़िता के घरवालों ने कोरोना टेस्ट कराने से मना कर दिया। बता दें कि पीड़िता के परिवार वाले एक बार पहले भी परीक्षण के लिए मना कर चुके हैं। दरअसल पीड़िता की मौत के बाद से ही गांव में मीडिया और नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है। जिस कारण परिवार को कोरोना से खतरा है। इसी वजह से प्रशासन उनका कोरोना टेस्ट कराना चाहता है। लेकिन परिवार जांच कराने से इनकार कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here